अलीगढ़ - बेटियां न घर में सुरक्षित हैं और ना ही अस्‍पताल में। समाज में विकृत मानसिकता वाले भेडि़यों की नजर हर जगह उनके जिश्‍म पर रहती है। यह ताजा मामला उत्‍तर प्रदेश के अलीगढ़ स्थित एक टीबी अस्‍पताल का है ।
 यहां कि एमडी टीबी अस्पताल के कर्मचारी ने छय रोग से पीडि़त युवती को अपनी हवस का शिकार बना डाला। इस घटना से लड़की सहमी हुई है। हलाकि पुलिस ने  दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। वहां से उसे जेल भेज दिया गया। रविवार को पुलिस ने फिर किशोरी के बयान दर्ज किए। अब बयान के लिए 
पुलिस को दी शिकायत में पीडि़ता ने बताया कि एमडीटीबी अस्पताल में भर्ती थी। इस दौरान एक वहीं के दो कर्मियों ने एक शिवानंद नाम का चतुर्थ श्रेणी कर्मी उसके पास आया और इंजेक्शन लगाने के बहाने अस्पताल के अधीक्षक के कक्ष में ले जाकर उसके साथ  एक अन्य कर्मचारी विशाल की मदद से बेहोशी का इंजेक्शन लगाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। पडि़ता ने बताया कि जब उसे होश आया तो उसने इसकी जानकारी अपनी मां से दी। इसके बाद परिजनों ने  थाना हाथरस गेट कोतवाली में शिकायत की थी।

Previous Post Next Post

Ads.

Ads.

Ads.