लखनऊ : प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के मुखिया और पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल एकबार फिर "बिदक" गए हैं। पार्टी नेताओं ने उन सभी अटकलों पर विराम लगा दिया, जिसमें कहा जा रहा था कि उनकी घर वापसी हो सकती है। 
बता दें कि चर्चा का यह बाजार तब गरम हुआ था जब, सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा था कि सपा के दरवाजे सबके लिए खुले हैं। इसके बाद से ही कयास लगाया जाने लगा था कि प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) के मुखिया शिवपाल सिंह यादव अपने समर्थकों के साथ जल्द ही समाजवादी पार्टी में शामिल होंगे। लेकिन, प्रसपा ने इन अटकलों का खंडन करते हुए इसे  सोशल मीडिया का गाशिप बताया। पार्टी के प्रदेश सचिव आशीष चौबे ने कहा कि कुछ षड्यंत्रकारी प्रसपा को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं। 
Previous Post Next Post

Ads.

Ads.

Ads.