ओम रतूड़ी, देहरादून (उत्तराखंड)  । उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने विदेश में बसे अनिवासी भारतीयों से वर्ष में एक बार अपने देश जरूर आने की अपील की। इस दौरान उन्होंने उत्तराखंड प्रवासियों को भी साल में एक बार उत्तराखंड एवं अपने गांव आने की बात भी कही। 
अपने चार देशों के विदेश दौरे व कंपाला में 22 से 29 सितंबर तक आयोजित सीपीए सम्मेलन से लौटने के बाद सोमवार को हुुई बातचीत में उन्होंंने  बताया कि 
 प्रवासियों के बीच उत्तराखंड के संबंध में कई विषयों पर वार्ता भी हुई।  राष्ट्रमंडल संसदीय संघ का 64वें सम्मेलन युगांडा की राजधानी कम्पाला में आयोजित किया गया। इस सम्मेलन में सीपीए के 52 देशों की 180 शाखाओं द्वारा प्रतिभाग किया गया। दिनांक 23 सितंबर को उत्तराखंड के विधान सभा अध्यक्ष ने सीपीए की मेजबानी कर रहे युगांडा की संसद के अध्यक्ष श्रीमती रेबेका कडाका से शिष्टाचार भेंट वार्ता की तथा सम्मेलन के संबंध में चर्चा की व  सीपीए की कार्यकारी समिति की अध्यक्ष कैमरुन की संसद की मा0 माननीय उपाध्यक्ष श्रीमती एमिलिया लिफाफा से भी भेंटवार्ता की गई और सीपीए की कार्यकारी समिति के संबंध में विचार विमर्श हुआ। दिनांक 24 एवं 25 सितंबर 2019  ने सीपीए की अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी समिति की बैठक में प्रतिभाग किया। 
इस बैठक में सीपीए की गतिविधियों के विषय में प्रस्तुत वार्षिक रिपोर्ट तथा सीपीए के वार्षिक लेखों की समीक्षा की गई। समिति ने सीपीए की भविष्य की गतिविधियों के विषय में निर्णय लिए। बैठक में नए सदस्यों के सीपीए की सदस्यता हेतु विभिन्न देशों द्वारा दिए गए आवेदन पर विचार किया गया। 
उन्होंने बताया कि लोक सभा  अध्यक्ष ओम बिरला की अध्यक्षता में सीपीए इंडिया रीजन के सदस्यों की बैठक हुई जिसमें सम्मेलन के दौरान भारतीय दल की रणनीति बनाई गई। दिनांक 26 सितंबर को सम्मेलन का विधिवत औपचारिक उद्घाटन करते हुए युगांडा के  राष्ट्रपति  युवेरी मुसेवेनी ने सभी सदस्यों का स्वागत करते हुए उन्होंने राष्ट्रमंडल देशों से आपसी तालमेल के साथ अपने जनसंख्या बल का उपयोग विदेशी निवेश बढ़ाने, सुरक्षा और सांस्कृतिक आदान-प्रदान पर एक साथ काम करने के लिए आह्वान किया।
सम्मेलन में  अध्यक्ष प्रेमचंद ने अलग-अलग पारियों मे जलवायु परिवर्तन एवं युवा बेरोजगारी के दो अति महत्वपूर्ण विषयों पर देश का प्रतिनिधित्व किया। 
जलवायु परिवर्तन पर प्रेम चंद अग्रवाल ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय को भारत द्वारा जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए किए जा रहे कार्याें के बारे में बताया और यह भी बताया कि भारत की प्राथमिकता देश से गरीबी का उन्मूलन करना तथा सभी नागरिकों को मूलभूत आवश्यकताएं उपलब्ध कराता है तो वहीं देश जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए स्वच्छ ऊर्जा तकनीक के प्रयोग से विकास के कम कार्बन उत्सर्जन वाले रास्ते पर चलने के लिए भी प्रतिबद्ध हैं।
उन्होंने बताया कि सम्मेलन के दौरान प्रेम चन्द ने  अग्रवाल  दूसरी पारी में युवा बेरोजगारी के महत्वपूर्ण विषय पर आयोजित राउण्ड टेबल चर्चा में कहा, देश बेरोजगारी की समस्या के स्थाई समाधान के लिए कार्य कर रहा है।  उन्होंने औद्योगिक विकेंद्रीकरण कर अधिक से अधिक संख्या में क्षेत्रीय औद्योगिक हब विकसित किए जाने पर जोर दिया।  सम्मेलन में मौजूद भारतीय दल के सदस्यों से भारत माता की जय के नारे बुलवाकर अपने देश का जोरदार ढंग से प्रतिनिधि किया समारोह।

सम्मेलन मे विभिन्न राष्ट्रमंडल देशों के झंडे प्रदर्शित किए गए 
- सम्मेलन में दौरान ही  युगांडा के सबसे बड़े व्यवसायी एवं धनी व्यक्ति सुधीर रूपारेलिया से मुलाकात उन्हें उत्तराखंड में निवेश करने के लिए भी आमंत्रित किया।
-सम्मेलन के दौरान कंपाला में रहने वाले उत्तराखंड प्रवासियों द्वारा मा0 अध्यक्ष का जोरदार स्वागत किया गया। कंपाला में उत्तराखंड के प्रसिद्ध होटल व्यवसायी आलोक बडोनी जी के नेतृत्व में उत्तराखंड प्रवासियों ने मा0 अध्यक्ष से मुलाकात की।  इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष एवं उत्तराखंड प्रवासियों के बीच उत्तराखंड के संबंध में कई विषयों पर वार्ता भी हुई। मा0 अध्यक्ष ने सभी उत्तराखंड प्रवासियों को धन्यवाद देते हुए साल में एक बार उत्तराखंड एवं अपने गांव आने की बात भी कही।
खबरों में बने रहने के लिए इस link https://appsgeyser.io/9365228/Jharokha%20News को follow करें  और हमारे facebook https://www.facebook.com/jharokhanews/?modal=admin_todo_tour  पेज पर देख सकते हैं

Previous Post Next Post

Ads.

Ads.

Ads.