प्रतिकात्‍म फोटो।


गाजीपुर : जिले के  वाराणसी-भटनी रेल सेक्‍शन पर  हुरमुजपुर हाल्ट के पास करीब एक दर्जन मुस्‍लमान युवकों ने एक युवक के साथ पहले मारीपट की। इसके बाद उसे चलती ट्रेन से नीचे फेंक दिया, जिससे युवक की मौत हो गई। मृतक की पहचान राजीव गौतम पुत्र केशव राम निवासी गांव गजहरा थाना मुबारकपुर जिला आजमगढ़ के रूप में हुई है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
बताया जा रहा है कि राजीव गौतम(35) गाजीपुर जिले के माहपुर स्थित अपने किसी रिश्‍तेदार के पास आया हुआ था। यहां से मंगलवार की सुबह वाराणसी-भटनी पैसेंजर ट्रेन में सवार होकर मऊ की तरफ जा रहा था।
इस दौरान गौतम के साथ उसका चचेरा भाई श्रीकांत भी यात्रा कर रहा था।  श्रीकांत के अनुसार सादात रेलवे स्टेशन पर मऊ निवासी मुस्लिम समुदाय का एक युवक अपने करीब एक दर्जन साथियों के साथ ट्रेन में सवार हुआ। ट्रेन के प्‍लेटफार्म छोड़ते ही हुरमुजपुर हाल्ट के पास उक्त युवकों ने राजीव से ट्रेन में ही मारपीट शुरू कर दी। इसके बाद उक्‍त युवकों ने उसे उसे आपातकालीन खिड़की से बाहर फेंक दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। ट्रेन के जखनिया स्टेशन रुकने पर सभी हमलावर युवक उतर कर फरार हो गए। 
रेलवे अधिकारी की सूचना पर मौके पर पहुंची बहरियाबाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। 
कहीं इसलिए तो युवकों ने गौतम को नहीं ट्रेन से 
मृतक गौतम  के परिजनों के अनुसार राजीव गौतम की करीब दस साल पहले आजमगढ़ के भीखा गांव निवासी निशा से शादी हुई थी।  इसके बाद राजीव गौतम ने अपने गांव की आयशा खातून नाम की मुस्लिम युवती से प्रेम विवाह किया था। और आयशा खातून के साथ मुबारकपुर कस्बा में किराए के मकान में रह रहा था।  बताया जा रहा है कि जिस युवक ने अन्य युवकों के साथ राजीव के साथ मारपीट किया था, वह मृतक राजीव गौतम की पत्नी आयशा खातून का परिचित था। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।
Previous Post Next Post

Ads.

Ads.

Ads.