आप सभी तुलसी के फायदे जानते होगें। यह हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि तुलसी अर्क के फायदे भी होते हैं। तुलसी अर्क में बहुत से पोषक तत्‍व और औषधीय गुण होते हैं जो हमारी कई सामान्‍य और गंभीर स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को दूर करने में मदद करते हैं। तुलसी अर्क के फायदों में तनाव को कम करना, रक्‍त शर्करा को नियंत्रित करना, सूजन को ठीक करना, त्‍वचा स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देना, शरीर की विषाक्‍तता को बाहर निकालना, प्रतिरक्षा में सुधार करना आदि शामिल हैं। आइए विस्‍तार से जाने तुलसी और इसके अर्क के बारे में।



तुलसी अर्क क्या है 


जड़ी बूटीयों की मां के रूप में तुलसी को जाना जाता है। यह एक औषधीय पौधा है जिसके प्रत्‍येक भाग का कुछ न कुछ औषधीय उपयोग होता है। इसकी पत्तियां, फूल, फल, तना और जड़ आदि सभी हमारे लिए उपयोगी होती हैं। लेकिन क्‍या आपने कभी तुलसी अर्क का उपयोग किया है। तुलसी अर्क इस पौधे का सार होता है। इसका मतलब यह है कि जो गुण तुलसी के अलग-अलग भागों में होते हैं वे सारे गुण एक साथ तुलसी अर्क में होते हैं। इसे आप तुलसी पौधे का रस भी कह सकते हैं। आप इस जड़ी बूटी का उपयोग अपने अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए कर सकते हैं। इस लेख में आप तुलसी अर्क के फायदे और नुकसान के बारे में जान सकते हैं। आइए इन्‍हें जाने।


तुलसी रस के पोषक तत्‍व
औषधीय गुणों से भरपूर तुलसी का उपयोग विभिन्‍न दवाओं में प्रमुख घटक के रूप में उपयोग किया जाता है। क्‍योंकि इसमें बहुत से खनिज पदार्थ, पोषक तत्‍व, विटामिन और एंटीऑक्‍सीडेंट पाए जाते हैं। तुलसी में प्रोटीन की अच्‍छी मात्रा होती है। इसके अलावा इसमें विटामिन A, विटामिन C, विटामिन K और फोलेट भी पाया जाता है। खनिज पदार्थों में कैल्शियम, आयरन, मैग्‍नीशियम, फॉस्‍फोरस, पोटेशियम और सोडियम की अच्‍छी मात्रा होती है।तुलसी अर्क पोषक तत्‍वों से भरा हुआ है। इसमें मौजूद घटक प्रत्‍यक्ष और अप्रत्‍यक्ष रूप से कई बीमारियों से हमारे शरीर की रक्षा करते हैं।
तुलसी अर्क के फायदे 
जैसा की आप जानते हैं कि तुलसी का जड़ी-बूटियों के रूप में प्रमुख स्‍थान है। यह प्राचीन समय से ही आयुर्वेद का प्रमुख हिस्‍सा रहा है। इस पौधे में छोटी-छोटी तेल ग्रंथियां होती हैं जो विभिन्‍न बीमारियों का इलाज कर सकती हैं। तुलसी के पत्‍तों में बहुत से एंटीऑक्‍सीडेंट और खनिज पदार्थ होते हैं जो फ्री रेडिकल्‍स से लड़ने में हमारी मदद करते हैं। तुलसी के पौधे से प्राप्‍त अर्क प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने और स्‍वशन समस्‍याओं को ठीक करने में मदद करता है। तुलसी अर्क बुखार, पेट दर्द, वायरल संक्रमण आदि समस्‍याओं का प्राकृतिक इलाज माना जाता है। आइए विस्‍तार से जाने तुलसी अर्क के फायदे क्‍या हैं।
तुलसी अर्क के फायदे तनाव दूर करने में
इस औषधीय पौधे में फाइटोकेमिकल्‍स की अच्‍छी मात्रा होती है जो कार्टिसोल के स्‍तर को कम करने में मदद करते हैं। इसलिए तुलसी के अर्क का उपयोग करने पर यह तनाव से छुटकारा दिला सकता है। अध्‍ययनों से पता चलता है कि तनाव को कम करने के लिए तुलसी अर्क एक प्राकृतिक दवा का काम करती है। तुलसी अर्क में आपके शरीर में मौजूद तनाव हार्मोन को नियंत्रित कर आपके शरीर के अनुकूल बनाने की क्षमता होती है। नियमित रूप से तुलसी के पत्‍तों या तुलसी अर्क का उपभोग ऑक्‍सीडेटिव तनाव के लक्षणों को भी कम कर सकता है। इसके अलावा यह कार्डियोवैस्‍कुलर स्‍वास्‍थ्‍य को भी बढ़ावा दे सकता है।

तुलसी अर्क के गुण रक्‍त शर्करा नियंत्रित करे –
मधुमेह के प्रभाव को कम करने की क्षमता तुलसी अर्क में होती है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि इस रस में ऐसे पोषक तत्‍व मौजूद रहते हैं जो ग्‍लूकोज के स्‍तर को नियंत्रित करते हैं। इसके अलावा इसमें मौजूद विटामिन और खनिज पदार्थ शरीर में इंसुलिन स्राव को बढ़ाने में मदद करते हैं। एक अध्‍ययन से पता चलता है कि तुलसी अर्क मधुमेह टाइप 2 वाले मरीजों में रक्‍त शर्करा के स्‍तर को कम कर सकता है। ऐसा इसलिए होता है क्‍योंकि तुलसी में फाइटोकेमिकल यौगिक जैसे सैपोनिन्स, ट्राइटरपेन्‍स और फ्लैवोनोइड्स होते हैं जो इसके हाइपोग्‍लाइमिक प्रभाव के लिए जिम्‍मेदार होते हैं। मधुमेह रोगी तुलसी अर्क का उपभोग कर लाभ प्राप्‍त कर सकते हैं।

तुलसी अर्क का उपयोग सूजन को दूर करे 
प्रमुख शारीरिक समस्‍याओं में से एक सूजन है जो अधिकांश बीमारीयों में होती है। इसके अलावा सूजन कई बीमारीयों का कारण भी होती है। लेकिन आप सूजन चाहे वह गठिया की हो या हृदय की इन सभी का उपचार करने के लिए तुलसी अर्क का उपयोग कर सकते हैं। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि तुलसी के रस में एंटी-इंफ्लामेटरी गुण होते हैं। इस स्‍वादिष्‍ट जड़ी बूटी के अर्क में बीटा-कैरीओफिलीन (beta-caryophyllene) की उच्‍च मात्रा होती है जिसका उपयोग गठिया जैसी सूजन संबंधी बीमारियों के इलाज में किया जाता है। अध्ययनों से पता चलता है कि तुलसी से निकाले गए रस त्‍वचा की सूजन और लाली का भी प्रभावी इलाज कर सकती है।

तुलसी रस के लाभ कैंसर के लिए
आश्‍चर्य जनक रूप से तुलसी का रस कैंसर का उपचार करने में मदद कर सकता है। एक अध्‍ययन के अनुसार तुलसी के अर्क में रेडियोप्रोटेक्टिव (radioprotective) गुण होते हैं जो शरीर में ट्यूमर कोशिकाओं को नष्‍ट करने में मदद करते हैं। इसके अलावा तुलसी में यूजीनॉल होता है जो एंटीकैंसर गुणों के लिए जाना जाता है। तुलसी में अन्‍य फाइटोकेमिकल्‍स जैसे कि रोस्‍मरिनिक एसिड (rosmarinic acid), मायरेटेनल (myretenal), ल्‍यूटोलिन और एपिगेनिन (luteolin and apigenin) आदि भी होते हैं जो कैंसर के विभिन्‍न रूपों को रोकने में सहायक होते हैं। एक अन्‍य अध्‍ययन में तुलसी के पत्‍ते से निकाले गए अर्क को मानव अग्नाशयी कैंसर कोशिकाओं के ट्यूमरिजेनेसिस और मेटास्‍टेसिस को कम करने के लिए पाया गया था। तुलसी अर्क का उपयोग स्‍तन कैंसर के विकास को रोकने में मदद करता है।

पंच तुलसी के फायदे वजन कम करने में

कुछ अध्‍ययन बताते हैं कि तुलसी का रस रक्‍त ग्‍लूकोज और रक्‍त कोलेस्‍ट्रॉल को कम कर सकते हैं। ये दोनो ही कारक वजन बढ़ने का कारण होते हैं। तुलसी का रस कोर्टिसोल, तनाव हार्मोन भी वजन बढ़ाने मे योगदान देता है। जबकि तुलसी के अर्क में इन सभी समस्‍याओं को दूर करने की क्षमता होती है। इस तरह से आप अपने बढ़ते वजन को नियंत्रित करने के लिए तुलसी के रस का उपयोग कर सकते हैं। एक अध्‍ययन से पता चलता है कि तुलसी पत्‍ती से निकाले गए रस के 250 मिलीग्राम कैप्‍सूल का सेवन करने से मोटापे के रोगियों में लिपिड प्रोफाइल और अतिरिक्‍त वजन में सुधार पाया गया। आप भी अपने वजन को कम करने के लिए तुलसी अर्क या इससे बने कैप्‍सूल का उपयोग कर सकते हैं।

तुलसी अर्क त्‍वचा संक्रमण को रोके
अपने एंटीबायोटिक गुणों के कारण तुलसी का रस संक्रमण से त्‍वचा की रक्षा करता है। इसकी पत्तियों में मौजूद पोषक तत्‍व एंथ्रेसीस और ई कोलाई जैसे जीवाणुओं के विकास को प्रतिबंधित करते हैं जो त्‍वचा संक्रमण का कारण बनते हैं। त्‍वचा संक्रमण का इलाज करने के लिए तिल के तेल और तुलसी के अर्क की बराबर मात्रा को मिलाकर त्वचा संक्रमण में लगाना चाहिए। यह खुजली और अन्‍य प्रकार के संक्रमण से रक्षा करता है। इसके अलावा आप तुलसी के पत्तों को पीसकर इसमें बराबर मात्रा में नींबू का रस मिलाएं। इस मिश्रण को दाद पर लगाएं। यह दाद का इलाज करने में मदद कर सकता है।इसके अलावा तुलसी अर्क में एंटीमाइक्रोबायल और एंटीफंगल गुण भी होते हैं जो कई अन्‍य त्‍वचा संक्रमण को रोकने में मदद करते हैं।
तुलसी अर्क खरीदने के लिए संपर्क करे: 8566857794
Previous Post Next Post

Ads.

Ads.

Ads.