फोटो : सोशल साइट से 

नवांशहर (शहीद भगत सिंह नगर) :  जिले के गांव बाठला निवासी ७० वर्षीय एक बुजुर्ग की बंगा के सिविल अस्‍पताल में मौत हो गई। वह गुरुद्वारा साहिब में पाठी था।  
 बताया जा रहा है कि वह २० फरवरी को दो अन्‍य लोगों के साथ जर्मनी गया था। और वहां से वे तीनो इटली चले गए थे।  सात मार्च को वे बंगा पहुंचे।  इसी सोमवार को उसे सीने में दर्द, खांसी और बुखार की शिकायत हुई।  सेहत विभाग को इसकी जानकारी मिलने पर १३ मार्च को बुजुर्ग को निगरानी में रखा गया। सूत्रों के मुताबिक छह दिन तक इटली में रह कर आए बुजुर्ग का सेहत विभाग ने ब्‍लड सैंपल तक नहीं किया था। एसएमओ डॉ: कविता का कहना है कि बुजुर्ग को हार्ट की बीमारी और उसका सैंपल जांच के लिए भेजा गया है।  फिलहाल स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने परिवार के चार लोगों के ही बुजुर्ग के अंतिम संस्‍कार में शामिल होने की अनुमति दी है।  वह भी पर्सनल प्रोटेक्‍शन इक्विपमेंट ड्रेस पहनने के बाद। 
 इसी तरह लुधियाना जिले के खन्‍ना निवासी ३० वर्षीय एक युवक की इटली मे मौत हो गई। बताया जा रहा है कि वह पिछले दस सालों से इटली में रह रहा था और वहां के एक अस्‍पताल में गत २० दिनों से भर्ती था।  संदेह जताया जा रहा है कि उसे भी कोरोना था।  फिलहाल परिजनों को शव के आने का इंतजार है। 

अमृतसर में कोरोना के ११ संदिग्‍ध भर्ती
अमृतसर के श्री गुरु रामदास अंतराष्‍ट्रीय हवाई अड्डा पर विभिन्‍न देशों पहुंचे करीब एक हजार यात्रियों की जांच की गई। इनमें कतर और फ्रांस से आए सात लोगों को जांच के बाद घर ही सेहत विभाग की निगरानी में रहने को कहा गया है।  जबकि यूके से लौटी शहीद भगत सिंह नगर की एक महिला को स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की निगरानी में रखा गया है।  वहीं, लुधियाना जिले में भी कोरोना के तीन नए केस पाए गए हैं
Previous Post Next Post

Ads.

Ads.

Ads.