सांकेतिक फोटो।
गया : सहसा यकीन न होने वाली यह खबर बिहार के गया से है। जहां, शादी के कुछ मिनट बाद ही घर की देहरी लांघते ही दुल्‍हन ने अपने शौहर की बांहों में दम तोड़ दिया। यकीनन आप को इस खबर पर यकीन नहीं हो रहा होगा। लेकिन यह सच है। 
मामले के अनुसार आमस के सिहुली गांव के नसरूल्ला खां की बेटी  और कम्प्यूटर इंजीनियर जेबा उर्फ रिंकी की शादी  गया के एमआई प्लाजा में बिहारशरीफ के कलीमुजमां के इंजीनियर पुत्र तौसीफुज्जमा के साथ हुई थी।
दुल्‍हा अभी दुल्हन को लेकर दु:खहरनी फाटक के पास पहुंचा ही था कि  दुल्हन फरहीन को एक छिंक आई और उसने अपने शौहर की बांहों में ही दम तोड़ दिया।  बारात तो वापस बिहारशरीफ लौट गई। किन्तु अपनी नई-नवेली दुल्हन की मिट्टी में शामिल होने के लिए दूल्हा अपने माता-पिता व कुछ रिश्तेदारों के साथ ससुराल में ही रुक गया।
बताया जा रहा है कि रात में पूरे रस्‍म-ओ-रिवाज के साथ शादी हुई। सुबह  दूल्हा-दुल्हन को विदा किया गया। अभी दूल्हे की गाड़ी विवाहस्थल से महज पांच किलोमीटर आगे गई होगी कि अचानक दुल्हन को छिंक आई और दूल्हे की गाड़ी में ही उसने दम तोड़ दिया। पल भर के लिए दुल्हे को भी यकीन नहीं हुआ। उसने इसकी जानकारी दुल्हन के घरवालों को दी। इसके बाद उसे गया के निजी अस्पताल ले जाया गया। यहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।
घर वाले लड़की के साथ शादि के लिए रविवार को खुशी-खुशी घर से गया के लिए निकले थे। दुबई से लड़की के चाचा जकाउल्ला खां, मामा सीआरपीएफ के कमांडेंट  डॉ सरीयार खां सुरी, बहनोई यहिया खां दिल्ली से व फुफेरे भाई और चाचा मुज्जफ्फरपुर डीएसपी साबिर खां शादी शरीक होने आये थे। सबने अपनी ओर से दुल्हा-दुल्हन को शुभकामनाएं देकर विदा किया था। लेकिन उन्‍हें क्‍या पता था कि मौत उनकी बेटी के सुहागन होने का इंतजार कर रही और घर की देहरी लांघते ही उनकी फूल सी बेटी की प्राण ले उड़ेगी। 

और नया पुराने