सांकेतिक फोटो।

बेतिया : बुद्ध, महावीर और चंद्रगुप्‍त की धरती बिहार आज बेहद शर्मासार है। और सुसाशन बाबू की सरकार सोई हुई है। मुजफ्फरपुर बालिका गृह से मुक्त एक युवती चलती ट्रेन में सामुहिक दुष्‍कर्म का शिकार हुई है। लड़की का पटना के इलाज जीएमसीएच में चल रहा है। । इस मामले में एफआईआर दर्ज करने के बाद रविवार दोपहर पीड़िता की मेडिकल जांच कराई गई। जिसमें लड़की दो माह की गर्भवती पाई गई है।
 उल्‍लेखनीय है कि शुक्रवार की रात चार युवकों ने उसे अगवा कर चलती ट्रेन में सामुहिम दुष्‍कर्म  किया था। पीड़िता के बयान के आधार पर महिला थाने में मामला दर्ज किया गया है। पीड़िता ने इलमराम चौक निवासी आकाश कुमार, राजन कुमार, दीनानाथ कुमार एवं इंदिरा चौक निवासी कुंदन कुमार का नाम लिया है।  वहीं, जीएमसीएच की डॉक्टर रुबी के अनुसार पीड़िता दो माह की गर्भवती है। प्रथम दृष्टया दुष्कर्म का मामला सामने आया है। कहा जा रहा है कि पीड़िता की मां चाहती थी कि बात उजागर नहीं हो, ताकि बदनामी ना हो। बता दें कि जफ्फरपुर बालिका गृह में रह चुकी है । बताया जा रहा है कि पीड़िता की शादी एक साल पहले ही शहर की एक कॉलोनी में हुई थी। उसका पति व पिता दोनों नेपाल में नौकरी करते हैं। 
खबरों में बने रहने के लिए इस link https://appsgeyser.io/9365228/Jharokha%20News को follow करें  और हमारे facebook https://www.facebook.com/jharokhanews/?modal=admin_todo_tour  पेज पर देख सकते हैं

और नया पुराने