बच्‍ची की दुष्‍कर्म के बाद हत्‍या, मचा बवाल - The jharokha news

असंभव कुछ भी नहीं,India Today News - Get the latest news from politics, entertainment, sports and other feature stories.

Breaking

Post Top Ad

मंगलवार, 11 फ़रवरी 2020

बच्‍ची की दुष्‍कर्म के बाद हत्‍या, मचा बवाल


सीतापुर - यहां तीन वर्षीय एक बच्‍ची के साथ दुष्‍कर्म कर उसकी हत्‍या किए जाने के बाद बवाल मच गया है।  यह घटना जिले के महोली क्षेत्र स्थित एक गांव में की बताई जा रही है। यह घटना सोमवार देर शाम की है।  एक गांव में तीन वर्षीय बच्ची की हत्या कर दी गई।
बताया जा रहा है कि वारदात से पहले आरोपी ने बच्ची के साथ दुष्कर्म भी किया। इस घटना की जानकारी ग्रामीणों को हुई तो काफी देर तक हंगामा किया। लोगों ने नेशनल हाईवे पर जाम भी लगाया। करीब दो घंटे की तलाशी के बाद बच्ची का शव घर से 50 मीटर दूर एक ग्रामीण के घर में बोरी में भरा हुआ मिला। सूचना के करीब एक घंटे बाद पुलिस जब नहीं पहुंची तो आक्रोशित ग्रामीणों ने चौकी के सामने जाकर राष्ट्रीय राजमार्ग 24 जाम कर दिया। मृतका की दादी ने बताया कि सोमवार की शाम करीब 6 बजे उनकी पोती घर के बाहर खेल रही थी। इसी दौरान अचानक वह गायब हो गई। परिवारजन ने ग्रामीणों के साथ बच्ची को काफी तलाशा। इसके बाद कुछ ग्रामीणों ने बच्ची को घर से करीब 50 मीटर दूर एक व्यक्ति के घर के बाहर देखने की बात कही। परिजन घर के अंदर गए तो बच्ची की चप्पल मिल गई। इस पर ग्रामीणों ने अनहोनी की आशंका जाहिर की और उसे घर के अंदर ढूंढना शुरू किया। इस दौरान आंगन के कोने में एक बोरी में बच्ची का शव मिला जिस पर ऊपर से तसला ढका हुआ था। ग्रामीणों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। गांव से एक किलोमीटर दूर रिछाही पुलिस चौकी है, लेकिन एक घंटा बीत जाने के बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंची। बच्ची के परिवारीजन बच्ची के खून से लथपथ शव को लेकर महोली सीएचसी पहुंचे जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।  आक्रोशित ग्रामीणों ने चौकी के सामने पुलिस बैरीकेडिंग लगाकर एनएच-24 को जाम कर दिया, जिसके बाद इंस्पेक्टर राजेंद्र शर्मा दलबल सहित मौके पर पहुंचे। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक पुलिस का व्यवहार ग्रामीणों के साथ ठीक नहीं था। इससे आक्रोशित ग्रामीणों ने सीतापुर-बरेली नेशनल हाईवे पर जाम लगा दिया। करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद ग्रामीण माने और जाम खोल दी। रात करीब 10:30 बजे ग्रामीणों ने आरोपित राजू नाम व्यक्ति के घर के बाहर प्रदर्शन किया और घर के बाहर पड़े टीन शेड को क्षतिग्रस्त करने का प्रयास किया देर शाम तक गांव में तनाव का माहौल था। गांव में पुलिस बल तैनात था। घटना के बाद तनाव को देखते हुए आला अफसरों ने कई थानों का फोर्स मौके पर भेजा है। सीओ सिटी योगेंद्र सिंह के नेतृत्व में रामकोट और शहर कोतवाली से भी पुलिस फोर्स भेजा गया है।

Pages